|

नरेंद्र मोदी पहले ओबीसी प्रधानमंत्री नहीं

भाजपा और जदयू के बीच एक बार फिर बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। नरेंद्र मोदी के पहले ओबीसी प्रधानमंत्री होने के अमित शाह के दावे का जेडीयू ने खंडन करते हुए कहा बीजेपी आगामी विधानसभा चुनाव को जातीय रंग देना चाहती है। जेडीयू नेता केसी त्यागी ने कहा कि देश के पहले ओबीसी नेता चौधरी चरण सिंह और एच डी देवगौड़ा रहे है. इसलिए अमित शाह का ये बयान गलत है। दूसरी ओऱ शाह ने बिहार विधान परिषद में बीजेपी की जीत का जिक्र करते हुए कहा कि जनता परिवार फुस्स पटाखा साबित हुआ है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा के नरेन्द्र मोदी को देश का प्रथम ओबीसी प्रधानमंत्री के रूप में पेश किए जाने के दावा को गलत बताते हुए शाह के दावे का खंडन करने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा का नाम लिया।

त्यागी ने भाजपा पर प्रहार करते हुए प्रधानमंत्री को जातीय नेता बनाने की कोशिश करने का आरोप लगाया और कहा कि गुजरात में वह ‘हिन्दू हृदय सम्राट’ के तौर पर जाने जाते थे। पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने विकास के नाम पर वोट मांगा। दिल्ली विधानसभा चुनाव में मोदी को ‘विकास पुरुष’ के तौर पर पेश किया गया लेकिन बिहार में उन्हें ओबीसी के नेता के तौर पर पेश किया जा रहा है।

दोनों दलों ने बिहार चुनाव में किसी भी कीमत पर एक दुसरे को मैदान बाहर करने की ठान रखी है, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगली कामयाबी भी आने वाले बिहार चुनाव से ही होगी.

Short URL: http://www.wisdomblow.com/hi/?p=1219

Posted by on Jul 11 2015. Filed under Top Story, युवा मंच, राजनीति, राज्य, विचार, शासन, सामाजिक. You can follow any responses to this entry through the RSS 2.0. You can leave a response or trackback to this entry

Leave a Reply

120x600 ad code [Inner pages]
300x250 ad code [Inner pages]

Recently Commented