भूकंप से नेपाल फिर भयानक दहशत में

पर्यटन पर अवलंबित और उससे उससे पहचान रखनेवाला हिमालयी देश नेपाल पुनः भूकंप के भयानक झटकों से चोटिल हो गया, अभी मुश्किल से बीस दिन (25 अप्रैल) भी नहीं गुजरे कि फिर से आज (12 मई) को भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार दोपहर 12:35 बजे रिक्टर पैमाने पर 7.3 तीव्रता का भूकंप आया जिसका केंद्र काठमांडो से पूर्व में करीब 70 किलोमीटर दूर 18.5 किलोमीटर की गहराई में था। विभाग ने बताया कि बाद में 6.2, 5.4 और 4.8 तीव्रता के तीन झटके महसूस किए गए। भारत में अनेक हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए।

दिल्ली, पश्चिम बंगाल, असम, ओडिशा और उत्तर प्रदेश में लोग आज झटका महसूस होने के तत्काल बाद इमारतों से बाहर आ गये। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भूकंप के तत्काल बाद हालात का जायजा लिया और सभी संबंधित अधिकारियों को राहत और बचाव अभियान के लिए सतर्क रहने का निर्देश दिया। बिहार के

मुजफ्फरपुर में दो-दो और समस्तीपुर व पश्चिम चम्पारण में एक-एक की मौत हुई। वहीं पटना में चार, छपरा में तीन, सीवान-गोपालगंज में दो-दो और नवादा, शेखपुरा, औरंगाबाद तथा वैशाली में एक-एक की मौत हुई। उधर मधेपुरा में दो और अररिया व किशनगंज में भी एक-एक की जान गई। हालांकि बिहार के आपदा प्रबंधन विभाग ने राज्य में सात लोगों के मरने और 24 के घायल होने की पुष्टि की है।

नेपाल के गृह मंत्रालय ने कहा है कि मंगलवार को आए भूकंप में अब तक कुल 42 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो गई है जबकि ताजा भूकंप की चपेट में आने से 1,117 लोग जख्मी हुए हैं। पुलिस को आशंका है कि आने वाले घंटों में मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है क्योंकि कई इलाकों में मकानों के क्षतिग्रस्त होने की रिपोर्टें आ रही हैं।

पहला झटका 12.35 बजे आया, इसकी तीव्रता रिक्टकर पैमाने पर 7.4 बताई गई है। भूकंप के कारण करीब 30 सेकंड्स तक धरती हिलती रही। यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के मुताबिक, इसके बाद करीब 12.47 बजे भूकंप का दूसरा झटका नेपाल के कोडारी में आया है। इसकी तीव्रता रिक्टपर पैमाने पर करीब 5.6 बताई जा रही है। नेपाल में माउंट एवरेस्ट के बेसकैम्प के पास 7.4 तीव्रता का भूकंप फिर से आया है। इसी के समानांतर अफगानिस्तान में 6.9 तीव्रता वाला भूकंप आया। इन दो भूकंपों के एक साथ आने पर पूरे उत्तर व मध्य भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश तक झटके महसूस किये गये हैं।

तीसरा झटका करीब 1.06 मिनट पर 6.3 तीव्रता का महसूस किया गया। इसके बाद चौथा झटका 1.36 मिनट पर पांच तीव्रता का और 1.43 मिनट पर पांच तीव्रता का पांचवां झटका महसूस किया गया। नेपाल भारत के अलावा बांग्लादेश और पाकिस्तान में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भारत में 11 मौतों की सूचना है।

नेपाल के साथ-साथ बिहार और उत्तर प्रदेश में एक बार फिर दहशत का माहौल है, जहाँ लोग रात में घरों से निकल कर मैदानों और आहातों में सो रहे हैं.

Top Story, अंतर्राष्ट्रीय, पर्यावरण, शासन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *