आओ बदनामी-बदनामी खेलें

 लगता है सिर्फ भारत में ही नहीं विदेशों में भी महात्मा गांधी से संबंधित कोई विवाद पैदा करके प्रसिद्धी पाने...

देशद्रोह का पैमाना अलग-अलग क्यों ?

लोकतांत्रिक भारत में न्यायिक व्यवस्था कैसी चरमराई है इसका साक्षात उदहारण है रायपुर सेसन  कोर्ट। बिनायक सेन जिन्हें रायपुर...

बिहार पंचायत चुनाव- राजनीतिक हमाम में मुखियों की नंगई भी कम नहीं

पंचायत प्रतिनिधियों ने सरकारी पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ मिलकर विकास योजनाओं में रिश्वत एवं कमीशन वसूले, जमकर कमाई...

बजट २०११-१२ और अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लिये कम आवंटन

भारत के वित्त मंत्री, श्री प्रणब मुखर्जी द्वारा भारत का सामान्य बजट वर्ष 2011-12 दिनांक 28 फरवरी, 2011 को...

एक दिन का सशक्तिकरण

अन्तर्राष्टीय महिला दिवस मुख्य रूप से कामगार महिलाओं के लिए बनाया गया एक विशेष दिन है जिसे प्रत्येक वर्ष...

लिंकन का लोकतंत्र

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है. पूर्णतः मर्यादित व अनुशासित मनुष्य, संस्थाओं एवं संपूर्ण राष्ट्र के निर्माण एवं विकसित करने...