अमेरिकी चुनाव और मुसलमान: एक सोची समझी रणनीति

आदित्य कुमार गिरि डॉनल्ड ट्रम्प की मुस्लिम विरोधी रणनीति से भारत में भी कुछ लोग खुश हैं। यकीनन वे...

किसानों की आर्थिक बदहाली और फलस्वरूप ‘आत्महत्या’

सारदा बैनर्जी देश में किसानों की आर्थिक बदहाली और उसके परिणामस्वरूप उनकी आत्महत्या की घटनाएं पिछले दो दशकों से...

दूरदर्शन के विज्ञापनों का बदलता स्वरुप

रंजना दुबे अपितु साहित्य समाज का दर्पण है, परन्तु मौजूदा समय में विज्ञापन समाज का दर्पण बन रहा है|...

सम्पूर्ण भारतीय समाज का दर्पण दिल्ली और मुम्बई

मनोहर मनोज यह बड़ी आम किवंदती है कि भारत की सारी समृद्घि दिल्ली और मुंबई जैसे शहरों में दिखायी...

संविधान पर खुलकर चर्चा होनी चाहिए

मनोहर मनोज 26 नवम्बर को संबिधान तिथि के बहाने संसद में हुए संविधान पर बहस में किसी ने इसका...

वंचित वर्ग को आरक्षण से नहीं सशक्तिकरण से फायदा

मनोहर मनोज वंचित वर्ग की राजनीति के परिसंवाद यानी पालीटिकल डिस्कोर्स में आरक्षण का मुद्दा पुन: तीव्रता से चर्चाएमान...